वकील दंपति की कार को रोककर चाकू से हमला, अस्पताल ले जाते समय तोड़ा दम

हैदराबाद। तेलंगाना हाईकोर्ट में कार्यरत वकील दंपति की चाकू से गोदकर दिनदहाड़े हत्या कर दी गई। पुलिस ने मामले में केस दर्ज करके बदमाशों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है, लेकिन फिलहाल यह पता नहीं लग सका है कि दंपति की नृशंष हत्या किसने और क्यों की। पुलिस ने शक के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। वामन राओ और उनकी पत्नी तेलंगाना हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करते थे। पुलिस उनसे जुड़े कुछ पुराने आपराधिक मामलों को भी खंगाल कर देख रही है।
जानकारी के अनुसार वारदात तब हुई जब वकील जी.वामन राओ और उनकी पत्नी अपनी कार से जा रहे थे। बदमाशों ने रामागिरी मंडल गांव के पास उनकी कार को जबरन रोकी और हमला कर दिया। बदमाशों ने उन पर चाकुओं से वार किए। वारदात दोपहर लगभग ढाई बजे हुई। रामागिरी गांव हैदराबाद से तकरीबन दो सौ किलोमीटर दूर है। पुलिस का कहना है कि वारदात के बाद हमलावर वहां से भाग निकले। दंपति को जब अस्पताल ले जाया जा रहा था, तब रास्ते में दोनों ने दम तोड़ दिया। पुलिस के मुताबिक, ऐसा लगता है कि किसी ने पुरानी रंजिश के चलते वारदात को अंजाम दिया, क्योंकि लूट की थ्यौरी पर अभी यकीन करना मुश्किल है। तेलंगाना की बार काउंसिल ने वारदात की निंदा करते हुए पुलिस से मांग की है कि आरोपियों को जल्दी से जल्दी पकड़ा जाए। उधर, मामले से जुड़े लोगों का कहना है कि जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया उससे लगता है कि बदमाश घात लगाकर पहले से वहां बैठे थे। उन्हें पहले से पता था कि दंपति वहां से गुजरने वाले हैं। जाहिर है कि हत्या सोची समझी साजिश के तहत की गई।