रात में गश्त कर नगर की चौकिदारी करने वाले गोरखा की रूम में खून से लथपथ मिली लाश, हत्या की आशंका

बालोद। जिले के डौंडीनगर में एक गोरखा की हत्या कर दी गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस डॉग स्क्वॉड के साथ घटनास्थल पहुंची और मामले की जांच में जुट गई। जानकारी के अनुसार बेंगलुरु का रहने वाला गोरखा डौंडी नगर में करीब एक महीने से रात में गश्त करता था। नगर के वार्ड तीन स्थित एक मकान में गोरखा की खून से लथपथ लाश बरामद हुई है। उसके सिर पर गंभीर चोट के निशान भी हैं। बताया जाता है कि दो दिन पहले गोरखा ने शहर के व्यापारियों से मेहनताना लिया था। उसके गुजर-बसर का यही जरिया था।

जिस मकान में गोरखा रहता था उसके मकान मालिक इशाक खान ने ही सबसे पहले उसकी लाश देखी। उसने इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई। पुलिस ने आसपास के निवासियों से पूछताछ की और डॉग स्क्वॉड की मदद से घटनास्थल का मुआयना कर रही है। पुलिस ने बताया कि मृतक के सिर में गहरी चोट के निशान हैं। घटनास्थल पर जगह-जगह खून के धब्बे बिखरे थे। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि गोरखा की हत्या की गई होगी। बहरहाल मौके पर एडीशनल डीएसपी भी पहुंच चुकी हैं। डौंडीनगर में चौकीदारी का काम करता था राम बहादुर। बहरहाल डौंडी पुलिस शव का पंचनामा कर आगे की जांच में जुट गई है। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस मामले में कुछ भी बता पाने की बात कह रही है। मृतक का नाम राम बहादुर बताया जा रहा। वह डौंडीनगर में रात को चौकीदारी करता था। साथ ही डौंडीनगर के वार्ड-3 स्थित एक किराए के मकान में रहता था।