कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच ​ट्रांजिट रिमांड पर वर्धा भेजे गए कालीचरण 

रायपुर। राजधानी में आयोजित धर्म संसद में महात्मा गांधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले अकोला के अभिजीत सारग उर्फ कालीचरण को रायपुर सेंट्रल जेल से महाराष्ट्र पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर अपने साथ लेकर रवाना हुई। दरअसल कालीचरण के खिलाफ महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में मनोज हनुमंत राव चांदुरकर की शिकायत पर वर्धा पुलिस थाने में केस दर्ज किया गया था।

इसी केस के सिलसिले में महाराष्ट्र की वर्धा पुलिस मंगलवार को रायपुर पहुंची और देर शाम को केंद्रीय जेल में बंद कालीचरण को कड़ी सुरक्षा के बीच ट्रांजिट रिमांड पर अपने साथ लेकर वर्धा के लिए रवाना हो गई। बता दें कि महाराष्ट्र के अकोला, कडक, ठाणे समेत पांच अलग-अलग पुलिस थानों ने कालीचरण के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। रायपुर कोर्ट से जमानत नहीं मिलने पर कोर्ट के आदेश पर 14 दिन के लिए कालीचरण रायपुर सेंट्रल जेल में बंद हैं। रायपुर कोर्ट से जमानत नहीं मिलने से कालीचरण के वकील हाइकोर्ट में जमानत याचिका दायर करेंगे।