पड़ोसी चाचा ही निकला हत्यारा, 4 साल के मासूम को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया

रायपुर। उरला थाना क्षेत्र से गायब हुआ 4 साल का हर्ष अब कभी घर नहीं आएगा। उसे पड़ोस में ही रहने वाले एक निर्दयी ने जिंदा जला दिया। हर्ष को ढूंढने का दावा करने वाली पुलिस को उसकी जली हुई लाश मिली है। दरअसल हर्ष जिसे चाचा मानता था और उसके साथ खेलता था। वह निर्दयी निकला। उसने बालक की हत्या कर दी। तरीका ऐसा कि चुना कि सुनकर रूह कांप जाए। आरोपी ने मासूम के शरीर में पहले एक कपड़ा लपेटा। फिर एक लीटर पेट्रोल से उसे नहलाया और जब मासूम ने कहा कि आंख जल रही है। तब जलती बीड़ी उसके ऊपर फेंक दी। जिससे मासूम जिंदा जल गया।
बता दें कि मामला उरला के वार्ड-4 का है। 5 अप्रैल को जयेंद्र चेतन के बेटे हर्ष और दिव्यांश को पड़ोसी पंचराम गेंडरे अपनी बाइक में घुमाने ले गया था। लगभग 10: 17 मिनट पर दोनों बच्चे उसके साथ वापस आए। लेकिन छोटा बेटा हर्ष दोबारा घूमने जाना चाहता था। जिसके बाद आरोपी पंचराम उसे दोबारा घुमाने ले गया पर वापस नही लौटा। 
पुलिस टीम को जानकारी मिली कि पंचराम ने अपनी बाइक दुर्ग में बेच दी है। पता चला कि वह महाराष्ट्र की ओर भागा है। जांच टीम भी नागपुर की ओर रवना हुई। तीन दिन बाद जब पंचराम ने बच्चे की हत्या कर दी तो पुलिस ने नागपुर के पास पंचराम को ट्रेस कर गिरफ्तार कर लिया।