एथेनॉल प्लांट में निवेश की संभावनाओं पर हुई चर्चा, छत्तीसगढ़ सहित देशभर से जुड़े प्रतिभागियों ने दिखाई रूचि 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप बेमेतरा जिले में गन्ना आधारित एथेनॉल इकाईयों की स्थापना के लिए निवेश संभावनाओं पर 14 जुलाई को उद्योग भवन रायपुर में वर्चुअल चर्चा हुई। वाणिज्य एवं उद्योग विभाग की ओर से यह कार्यक्रम रखा गया। इसका उद्देश्य राज्य में एथेनॉल आधारित नवीन निवेश क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देना था। इस कार्यक्रम में दिल्ली, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश आंध्रप्रदेश, चंडीगढ़ एवं छत्तीसगढ़ के 100 से अधिक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। साथ ही देश के प्रमुख उद्यमी संस्थाओं, सहकारिता संस्था एवं औद्योगिक संघो नेशनल फेडरेशन आॅफ कोआॅपरेटिव्ह शुगर फैक्ट्रीज इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, वेस्ट इंडियन शुगर मिल एसोसिएशन, पीएचडीसीसीआई फिक्की सीआईआई एवं राज्य के औद्योगिक संगठनों के प्रतिनिधि एवं सदस्य वर्चुअल रूप से शामिल हुए। 


वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार पिंगुआ ने निवेशकों को परियोजना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियां दी। उन्होंने  कहा कि बेमेतरा जिले में बहुतायत मात्रा में गन्ने का उत्पादन होता है। इसके कारण यहां गन्ना आधारित एथेनॉल प्लांट की स्थापना की बड़ी अच्छी संभावनाएं हैं। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ शासन की ओर से राज्य के औद्योगिक विकास के दृष्टिगत निवेशकों को सभी आवश्यक सुविधाएं एवं सहायता प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। सरकार औद्योगिक विकास के लिए हर संभव मदद देने के लिए तत्पर है। 


छत्तीसगढ़ स्टेट इंडस्ट्रियल डेव्हलपमेंट कार्पाेरेशन लिमिटेड के प्रबंध संचालक पी.अरुण प्रसाद की ओर से वर्कशॉप के दौरान राज्य में एथेनॉल सेक्टर के विकास एवं गन्ना आधारित एथेनॉल इकाईयों की स्थापना की संभावनाओं और इसके लिए राज्य की क्षमता, उपलब्ध सुविधाओं, अनुदानों और प्रोत्साहनों व निवेश नीतियों पर एक प्रेजेन्टेशन प्रस्तुत किया। उनके ओर से औद्योगिक नीति 2019-24 की प्रमुख विशेषताओं की जानकारी दी गई। उन्होंने बताया कि यह नीति राज्य के समग्र औद्योगिक एवं आर्थिक विकास के दृष्टिगत बनाई गई है। राज्य में उद्योग स्थापना के लिए प्रतिस्पर्धी भूमि दर एवं प्रब्याजि निर्धारित की गई है। उन्होंने इस दौरान प्रतिभागियों के प्रश्नों एवं शंकाओं का समाधान किया। उन्हें राज्य में एथेनॉल उत्पादन के क्षेत्र में निवेश के लिए आमंत्रित किया। वर्चुअल चर्चा के दौरान छत्तीसगढ़ सहित देश के अन्य राज्यों के प्रतिभागियों एवं औद्योगिक संस्थानों के प्रतिनिधियों ने बेमेतरा जिले में एथेनॉल प्लांट की स्थापना के लिए निवेश के प्रति रूचि दिखाई।