मायावाती ने सरकार पर उठाया सवाल, कहा मुगल गार्डन का नाम बदलने से समस्या दूर हो जायेगी?

लखनऊ/रायपुर। केंद्र सरकार के राष्ट्रपति भवन स्थित मुगल गार्डन का नाम बदले जानें पर बहुजन समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मायावती ने केंद्र सरकार के इस फैसले पर सवाल उठाया है। मायावती ने कहा कि मुगल गार्डन का नाम बदलने से क्या देश व यहां के करोड़ों लोगों के दिन-प्रतिदिन की ज्वलन्त समस्याएं दूर हो जाएंगी? वरना फिर आम जनता इसे भी सरकार द्वारा अपनी कमियों व विफलताओं पर पर्दा डालने का प्रयास ही मानेगी। मायावती ने कहा कि देश की जनता महंगाई से त्रस्त है। कुछ लोगों को छोड़कर बाकी सब परेशान हैं। गरीबी, बेरोजगारी के तनावपूर्ण जीवन से त्रस्त है। धर्मांतरण, नफरती भाषणों से ध्यान बांटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि मुगल गार्डन का नाम बदलने से क्या समस्या दूर होगी।मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा,”कुछ मुट्ठीभर लोगों को छोड़कर देश की समस्त जनता जबरदस्त महंगाई, गरीबी व बेरोजगारी आदि के तनावपूर्ण जीवन से त्रस्त है, जिनके निदान पर ध्यान केन्द्रित करने के बजाय धर्मान्तरण, नामान्तरण, बायकाट व नफरती भाषणों आदि के जरिए लोगों का ध्यान बांटने का प्रयास घोर अनुचित व अति-दुःखद।”बसपा अध्यक्ष ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा,”ताज़ा घटनाक्रम में राष्ट्रपति भवन के मशहूर मुग़ल गार्डेन का नाम बदलने से क्या देश व यहाँ के करोड़ों लोगों के दिन-प्रतिदिन की ज्वलन्त समस्यायें दूर हो जाएंगी। वरना फिर आम जनता इसे भी सरकार द्वारा अपनी कमियों व विफलताओं पर पर्दा डालने का प्रयास ही मानेगी।” बता दें केंद्र सरकार ने मुगल गार्डन का नाम बदल कर अमृत उद्यान के नाम पर रख दिया है।