प्रख्यात नृत्यांगना गरिमा हजारिका नही रही

गुवाहाटी/रायपुर। असम की प्रख्यात नृत्यांगना और संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित गरिमा हजारिका का निधन हो गया। वह 83 वर्ष की थीं। उनके पति कृष्णमूर्ति हजारिका भी प्रख्यात शास्त्रीय नर्तक थे। गरिमा हजारिका ओडिसी और कथक नृत्य विधा में भी कुशल थीं। शास्त्रीय नृत्य परंपरा के तहत सत्रिया नृत्य विधा पहले 'सत्रा' या वैष्णव मठों तक ही सीमित थी और पुरुषों द्वारा इस नृत्य का अभ्यास किया जाता था।