विश्व के कई देशों में जल्द ही गूजेंगी अंग्रेजी में रामचरितमानस की चौपाइयां

लखनऊ/रायपुर। दुनिया के कई देशों में जल्द ही अंग्रेजी में रामचरितमानस की चौपाइयां गूजेंगी। इसके लिए अयोध्या शोध संस्थान की पहल पर त्रिनिदाद एवं टोबॅगो ने काम भी शुरू कर दिया है। भारत और त्रिनिदाद एवं टोबैगो रामचरितमानस की चौपाइयों और दोहों का अंग्रेजी में अनुवाद कर रहे हैं। इसके बाद इन्हें सुर, लय एवं ताल में निबद्ध कराकर प्रवासी देशों में उपलब्ध कराएंगे। भातखंडे. संस्कृति विश्वविद्यालय की प्रोफेसर सृष्टि माथुर ने अंग्रेजी में रामचरितमानस के संगीत पक्ष के लिए सहमति दे दी है।