बहनों ने भाइयों के कलाई पर बांधा रक्षा सूत्र

राजिम। रक्षाबंधन पर बहनों ने भाईयों को राखी बांधी। बालिका गुंजेश्वरी सोनकर, वाणी सोनकर, डिंपल सोनकर, हर्षिता सोनकर ने कहा कि राखी मात्र रेशम की डोर नहीं बल्कि यह भाई बहन के प्रेम का प्रतीक है। अंचल के गांवों और शहरों में पर्व धूमधाम से मनाया गया। इस मौके पर पूरे सावन मास तक चले सवनही रामायण का विसर्जन कई गांव में किया गया।