शिक्षकों के मनमाफिक तबादले, अब एक कमरे में लग रहे 3-3 कक्षाएं, कई विद्यालयों में शिक्षक ही नहीं

कटनी। शिक्षकों के मनमाफिक ट्रांसफर ने सरकारी स्कूलों की व्यवस्था बिगाड़ दी है। स्कूलों में शिक्षकों की बेहद कमी हो गई। आलम यह हो गया है कि अब 13 स्कूलों में शिक्षक ही नहीं है। मिली जानकारी के अनुसार कटनी जिले के बहोरीबंद विकासखंड अंतर्गत माध्यमिक शाला ककरेहटा के इस स्कूल को देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि, यहां कक्षा छठवीं, सातवीं और आठवीं के बच्चे एक ही कक्ष में बैठकर पढ़ने के लिए इसलिए विवश हैं कि इस स्कूल में शिक्षकों की बेहद कमी है।

आठवीं के छात्र अनसुल बर्मन, सातवीं के छात्र आशीष बर्मन, आठवीं के शिवकुमार रजक, आठवीं के देव कुमार लोधी छटवीं के सौरभ लोधी ने बताया कि हमारे स्कूल में शिक्षक नहीं हैं। प्राथमिक शाला के सर कभी-कभी पढ़ा देते हैं। अतिथि मैडम हैं, वो भी कभी-कभी पढ़ा देती हैं। यही स्थिति विकासखंड के दूसरे स्कूलों की है। 

अधिक जानकारी के लिए: पत्रिका