भाजपा छत्तीसगढ़ की एकता को तोड़ने का षड्यंत्र कर रही है

रायपुर। भाजपा के द्वारा जगदलपुर में आयोजित की गई एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा की भारत एक था है और हमेशा श्रेष्ठ रहेगा। भारत की एकता और श्रेष्ठता को चोट पहुंचाने का काम हमेशा आरएसएस और भाजपा करती रही है यहां के गंगा जमुनी तहजीब को खंडित करने निरंतर प्रयास करते रही। भाजपा के नेता राष्ट्रवादी और देशद्रोही होने का प्रमाण बांटते रहे हैं। अब भाजपा अपनी घिनोनी की राजनीतिक मंसूबे को पूरा करने के लिए राज्यों में रह रहे लोगों के बीच में दरार पैदा करने का षड्यंत्र कर रही है और एक मजबूत भारत को खंडित करने के अपने मंसूबे को पूरा कर रही। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्त धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि जगदलपुर में वर्षों से रह रहे आंध्र प्रदेश के निवासियों के लिए अलग से कार्यक्रम का आयोजन कर उन्हें इस बात का एहसास करा रही है वो छत्तीसगढ़ के नहीं हैं? उनका प्रदेश अलग है उनकी बोली खानपान रहन सहन तीज त्योहार अलग है? ऐसे आयोजन कर भाजपा छत्तीसगढ़ में रहने वाले विभिन्न जाती धर्म बोली भाषा रहन-सहन खानपान के लोगों के बीच में मतभेद उत्पन्न कर रही है। छत्तीसगढ़ में रहने वाले अन्य प्रांतों के निवासी चाहे वो आंध्र प्रदेश के हो, झारखंड, उड़ीसा, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश, गुजरात, हरियाणा, पंजाब के निवासी हो या देश के किसी भी प्रांत से हो जो वर्षों से छत्तीसगढ़ में रह रहे है जीवकोपार्जन कर रहे उन्होंने अपने आप को कभी छत्तीसगढ़ से बाहर का नहीं माना और छत्तीसगढ़ की संस्कृति परंपरा तीज त्यौहार के साथ अपने भी संस्कृति को सामूहिक रूप से मनाया है। छत्तीसगढ़ में रहने वाले छत्तीसगढ़ से प्रेम करने वाला हर व्यक्ति छत्तीसगढ़िया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार बनने के बाद जो छत्तीसगढ़ियावाद और छत्तीसगढ़िया संस्कृति कल्चर परंपरा तीज त्यौहार की बात हो रही है। इसके खिलाफ भाजपा काम कर रही है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा छत्तीसगढ़ की एकता को तोड़ने का षड्यंत्र रच रही है एक ओर भाजपा कहती है कि क्षेत्रवाद की बात नहीं करती दूसरी ओर छत्तीसगढ़ में रह रहे दूसरे राज्यों के लोगों को एकत्रित कर छत्तीसगढ़ के बाहर के होने का प्रमाण दे रही है। ऐसे में भाजपा का एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम राजनीतिक कार्यक्रम रह जाता है। गुलामी के दौर में भी भारत के नागरिकों ने एकता के साथ फिरंगियों से मुकाबला किया जिसके चलते देश आजाद हुआ और कांग्रेस की सरकार ने 556 रियासतों को एक माला में पिरोकर एक मजबूत भारत का निर्माण किया एक श्रेष्ठ भारत का निर्माण किया जिसकी चर्चा दुनिया में होती है।