सीएम बघेल ने लोकेश्वरी से किया वादा, कलेक्टर ने घर पहुंचकर सौंपा 3 लाख रुपए का चेक

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भेंट-मुलाकात अभियान के तहत बस्तर संभाग का दौरा कर रहे है। जहां वे सीधे आम जनता से मुलाकात कर उनकी दिक्कतों का निवारण तुरंत कर रहे हैं। मुख्यमंत्री बस्तर संभाग में शासकीय योजनाओं की मैदानी स्तर तक पहुंच की जांच-परख स्वयं कर रहे हैं। कई जगह सीएम बघेल की उदारता और संवेदनशीलता देख प्रशासन के साथ आमजन भी चौकस है। इसी कड़ी में बस्तर विधानसभा के भैंसगांव ग्राम पंचायत में भेंट-मुलाकात के दौरान 26 मई को सीएम ने भीड़ में भी रोती हुई बेटी को देख लिया। ग्राम पंचायत कुरूषपाल की रहने वाली इस बेटी लोकेश्वरी को मुख्यमंत्री ने अपने पास बुलाकर उनकी समस्या सुनी। लोकेश्वरी की समस्या पर तत्काल संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री द्वारा तीन लाख रूपए की सहायता राशि तत्काल स्वीकृत करने के निर्देश दिए गए। मुख्यमंत्री के निर्देश पर बस्तर प्रशासन ने तत्काल अमल करते हुए महज तीन दिन के भीतर कलेक्टर रजत बंसल ने स्वयं लोकेश्वरी के घर जाकर उन्हें 3 लाख रुपए का चेक प्रदान किया। उल्लेखनीय है कि लोकेश्वरी ने मुख्यमंत्री को बताया था कि उसके पिता की 15 साल पहले मौत हो चुकी है। घर ना होने की वजह से अपनी विधवा मां और भाई के साथ अपने मामा के यहां रहने को मजबूर हैं। आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से वो और उसका भाई पढ़ाई भी नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि घरेलू कार्यों में मां की मदद करनी पड़ती है। उनकी समस्या सुन मुख्यमंत्री ने तत्काल सहायता राशि की घोषणा की। इस अवसर पर ज़िला पंचायत सीईओ रोहित व्यास एवं अनुविभागीय अधिकारी बस्तर ओपी वर्मा उपस्थित थे।