मुख्यमंत्री ने कहा, वन क्षेत्रों में नरवा विकास के अंतर्गत भू-जल संरक्षण कार्यों का प्राथमिकता से क्रियान्वयन हो

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि गैर वन क्षेत्रों के साथ-साथ वन क्षेत्रों में भी राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना ‘‘नरवा विकास’’ के अंतर्गत भू-जल संरक्षण के कार्यों का प्राथमिकता से क्रियान्वयन हो। इसके तहत कैम्पा मद से वन क्षेत्रों में किए जाने वाले कार्यों से वनवासियों, आदिवासियों तथा वन क्षेत्रों के आस-पास के ग्रामीणों को रोजगार सृजन के लिए महत्वपूर्ण अवसर उपलब्ध होता है। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में बुधवार को मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ प्रतिकरात्मक वनरोपण निधि प्रबंधन एवं योजना प्राधिकरण (कैम्पा) के शासी निकाय की द्वितीय बैठक में इस आशय पर निर्देश दिए गए। साथ ही सीएम बघेल ने जंगली हाथियों की ओर से की गई क्षति पर शीघ्र मुआवजा वितरण के निर्देश दिए है। इस दौरान वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मो. अकबर, मुख्य सचिव अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव डॉ. रेणु जी. पिल्ले, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, वन विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार पिंगुआ सहित अधिकारी उपस्थित थे।