दिनदहाड़े डकैती, हथियार लेकर घुसे बदमाशों ने महिलाओं को बनाया बंधक

छत्तीसगढ। बिलासपुर जिले में दिनदहाड़े लूट की वारदात हो गई। सत्ताधारी दल के एक नेता के घर आधा दर्जन से अधिक नकाबपोश डकैतों ने धावा बोला और बंदूक की नोक पर महिलाओं को बंधक बनाया। आरोपी नकदी, सोने-चांदी के गहने लूट कर फरार हो गए। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की। पुलिस ने शहर सहित बाहर निकलने वाले रास्तों पर नाकेबंदी कर जांच कर रही है। डकैती की घटना मस्तूरी थाना क्षेत्र में हुई है। घटना से परिवार दहशत में है।

गुरुवार की सुबह 11 बजे दर्रीघाट निवासी कांग्रेस के जिला सचिव टाकेश्वर पाटले के घर डकैती की वारदात हुई है। 8-9 नकाबपोश डकैतों ने महिलाओं को बंधक बनाकर डकैती की वारदात को अंजाम दिया है। डकैतों ने घर की महिलाओं को बंदूक दिखाकर धमकाया और अलमारी में रखे सोने-चांदी के गहने व नकदी लूटकर फरार हो गए। जिस समय डकैतों ने धावा बोला उस समय टाकेश्वर पाटले घर पर नहीं थे। सूचना पर आईजी रतनलाल डांगी, एसपी पारुल माथुर सहित पुलिस विभाग के अफसर पहुंचे।  

 

महिलाओं को रस्सी से बांधा, नकदी व गहने ले गए  

घर के लोगों ने पुलिस को बताया कि सुबह 8-9 युवक आए थे। सभी हेलमेट व मास्क लगाए हुए थे। उन्होंने बंदूक दिखाकर घर की महिलाओं को धमकाया। उसके बाद सभी के हाथ रस्सी से बांध दिए और अलमारी में रखे 2.5 लाख नकद व सोने-चांदी के जेवर समेत करीब 4 लाख का सामान लूट कर भाग निकले। सूचना पाकर पुलिस के आला अफसर मौके पर पहुंचे। इधर शहर में नाकेबंदी कर पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।