पहलवान दीपक पूनिया के कोच पर अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी ने की अनुशासनात्मक कार्रवाई, खेल गांव से किया बाहर

टोक्यो। पहलवान दीपक पूनिया के विदेशी कोच के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी ने अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उन्हें सख्त सजा सुनाई गई है। पूनिया के कोच मोराड गेड्रोव को टोक्यो ओलंपिक से बाहर कर दिया गया है। आरोप है कि पूनिया के कोच ने मैच के बाद रेफरी पर हमला किया। बता दें कि पूनिया गुरुवार को कांस्य पदक जीतने के करीब पहुंच गए थे, लेकिन 86 किग्रा के प्ले-ऑफ में सैन मरिनो के माइलेस नज्म अमीन ने अंतिम 10 सेकेंड में उन्हें पटखनी देकर कांस्य अपने नाम किया। 


मैच के बाद मोराड गेड्रोव रेफरी के कमरे में पहुंचे और उन पर हमला कर दिया। इसके बाद विश्व कुश्ती निकाय की ओर से अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी को इसके बारे में जानकारी दी गई। आईओसी की ओर से अनुशासनात्मक सुनवाई की गई,जिसमें भारतीय कुश्ती महासंघ को भी बुलाया गया। भारतीय कुश्ती महासंघ ने इसके लिए माफी मांगी है। विश्व कुश्ती निकाय को भारतीय ओलंपिक महासंघ ने बताया कि रूस के मोराड गेड्रोव को टोक्यो ओलंपिक से टर्मिनेट कर दिया गया है। हालांकि विश्व कुश्ती निकाय ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है।